Home / Bigg Boss Season 9 / Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi – जन्माष्टमी पर्व को भगवान श्रीकृष्ण के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। यह पर्व पूरी दुनिया में पूर्ण आस्था एवं श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। जन्माष्टमी को भारत में ही नहीं, बल्कि विदेशों में बसे भारतीय भी पूरी आस्था व उल्लास से मनाते हैं। श्रीकृष्ण युगों-युगों से हमारी आस्था के केंद्र रहे हैं। वे कभी यशोदा मैया के लाल होते हैं, तो कभी ब्रज के नटखट कान्हा।

भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव का दिन बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। जन्माष्टमी पर्व भगवान श्रीकृष्ण के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है, जो रक्षाबंधन के बाद भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है।

Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

Sri krishna janmashtami  Status in Hindi

 

श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर कथन

  • कान्हा तेरे साँवले रंग से जलने लगे हैं लोग तेरे जैसा कोई ढूढ़ नहीं पाए हैं लोग इसलिए तुझे तेरे रंग का उलाहना देने लगे हैं लोग.

  • जब भोर हुई तो मैंने कान्हा का नाम लिया सुबह की पहली किरण ने फिर मुझे उसका पैगाम दिया सारा दिन बस कन्हैया को याद किया जब रात हुई तो फिर मैंने उसे ओढ़ लिया.

  • राधा ने किसी और की तरफ देखा हीं नहीं… जब से वो कृष्ण के प्यार में खो गई कान्हा के प्यार में पड़कर, वो खुद प्यार की परिभाषा हो गई.

  • राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था दुनिया को प्यार का सही मतलब जो समझाना था.

  • जब कृष्ण ने बंसी बजाई, तो राधा मोहित होने लगी जिसे कभी न देखा था उसने, उससे मिलने को व्याकुल होने लगी.

  • प्यार दो आत्माओं का मिलन होता है ठीक वैसे हीं जैसे………. प्यार में कृष्ण का नाम राधा और राधा का नाम कृष्ण होता है.

  • प्रेम करना हीं है, तो मेरे कान्हा से करो जिसकी विरह में रोने से भी तेरा उद्धार हो जाएगा.

  • हे मन, तू अब कोई तप कर ले एक पल में सौ-सौ बार कृष्ण नाम का जप कर ले.

  • जमाने का रंग फिर उस पर नहीं चढ़ता…. जिस पर कृष्ण प्रेम का रंग चढ़ जाता है वो सभी को भूल जाता है, जो साँवरे का हो जाता है.

  • कृष्ण की आँखों में राधा हीं राधा नजर आती है मानो कृष्ण की आँखें, राधा की थाती है.

  • अगर तुमने राधा के कृष्ण के प्रति समर्पण को जान लिया तो तुमने प्यार को सच्चे अर्थों में जान लिया.

    Sri krishna janmashtami Image Photos

    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Happy-Krishna-Janmashtami-12
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

     

    Happy-Krishna-Janmashtami-22
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

    Happy Sri krishna janmashtami Photos

     

    Happy-Krishna-Janmashtami-19
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Happy-Krishna-Janmashtami-21
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi
    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

    Sri krishna janmashtami Image Photos Janmastmi Status in Hindi

Sri krishna janmashtami Poem in Hindi

कृष्ण जन्माष्टमी पर कविता

बारिश हो रही थी थम-थम कै, जम कै चल रही पुरवाई ।
लिया कृष्ण ने जन्म, देवकी पति से बतलाई ।
कहीं पहरेदार जाग जायं, बच्चे को गोकुल दो पहुँचाई।
 बासुदेव| हुए जल्द  तैयार,  ना पल की देर लगायी ।
चले छाज मे लड़का रखकै, पग धीरे-धीरे धर कै।
भादों मास की रात अंधेरी,  राह मे कुछ ना चमकै।
गलियारे सूने चुप चाप,  मन में उठे हिलोर  डर -डर कै।

मन ही मन बातें करते,  गोकुल की सुरत लगाई ।

जमुना बीच उतर कै,धोती ऊपर को सुगनाई ।
जमुना भर रही खूब  उफान, पार कुछ देता नहीं दिखाई ।
लटका दिया कृष्ण ने पैर, जमुना नीचे उतर आई।

शेष नाग लगाये रहे छतरी, कृष्ण रहे मुस्काई ।

भादों मास का कृष्णपक्ष,  कृष्ण जन्माष्टमी कहलाई।
इस रात हुआ दिव्य प्रकाश, उसकी याद जाती दोहराई ।
बंधन से मुक्ति मिलती है, करके रात जगाई ।
भक्ति से मन भर आता है, कृष्ण अमृत दो बरसाई ।
जन्माष्टमी के दिन व्रत रखने का विधान है। अपनी सामर्थ्य के अनुसार फलाहार करना चाहिए। कोई भी भगवान हमें भूखा रहने के लिए नहीं कहता इसलिए अपनी श्रद्धा अनुसार व्रत करें। पूरे दिन व्रत में कुछ भी न खाने से आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। इसीलिए हमें श्रीकृष्ण के संदेशों को अपने जीवन में अपनाना चाहिए।

About Narveer Dahiya

Check Also

Bigg Boss 10 Promo Starting Date Timing Schedule Premiere Episode 1 Live Telecast

Bigg Boss 10 Promo Starting Date Timing Schedule Premiere Episode 1 Live Telecast Bigg Boss …

Leave a Reply